चीन ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए चार अरब डॉलर की राशि आवंटित की

बीजिंग।चीन ने खतरनाक कोरोना वायरस को रोकने के प्रयासों को बल प्रदान करने के लिए गुरूवार को करीब चार अरब डॉलर की राशि आवंटित की, वहीं जैक मा तथा बिल एंड मेलिंडा गेट्स के संगठन भी मदद कर रहे हैं। इस जानेलवा वायरस से चीन में अब तक 170 लोग जान गंवा चुके हैं। चीन के हुबेई प्रांत के वुहान में दिसंबर में कोरोना वायरस का संक्रमण शुरू हुआ और अब पूरे देश में इसके मामले देखे जा रहे हैं। चीन के अधिकारी इस आपदा को काबू में करने की कोशिश में लगे हैं तो भारत समेत अन्य देश वुहान एवं हुबेई प्रांत के अन्य शहरों से अपने नागरिकों को निकालने की योजना पर काम कर रहे हैं। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने गुरूवार को बताया कि 38 और लोगों के जान गंवाने के बाद देश में इस वायरस से मृतक संख्या 170 हो गयी है, वहीं संक्रमण के कुल 7711 मामलों की पुष्टि हुई है। वित्त मंत्रालय ने कहा कि चीन ने कोरोना वायरस के खिलाफ पूरे देश में लड़ाई छेड़ने के लिए 27.3 अरब युआन (करीब 3.94 अरब डॉलर) की राशि आवंटित की है। शिन्हुआ समाचार एजेंसी के अनुसार कोरोना वायरस की रोकथाम और उस पर नियंत्रण के लिए राशि आवंटित की गयी है। वित्त मंत्रालय ने कहा कि समयबद्ध तरीके से कोरोना वायरस की रोकथाम और उस पर नियंत्रण के लिए वित्तीय और कर उपाय तेज करने होंगे। शिन्हुआ के अनुसार सरकार ने वायरस संक्रमित रोगियों के साथ संपर्क में रहते हुए काम कर रहे चिकित्सा कर्मियों के लिए 300 युआन (करीब 42 डॉलर) की विशेष दैनिक सब्सिडी की घोषणा भी की है। इस बीच कोरोना वायरस पर लगाम लगाने के मकसद से वैक्सीन विकसित करने के लिए अनुसंधान बढ़ाने को भी धन दिया जा रहा है। खबरों के मुताबिक चीन के दूसरे सबसे धनवान शख्स अलीबाबा संस्थापक जैक मा ने अपने जैक मा फाउंडेशन के माध्यम से कोरोना वायरस का टीका विकसित करने के प्रयासों में मदद के लिए 1.4 करोड़ डॉलर की मदद का ऐलान किया है। बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने चीन और अफ्रीका में एक करोड़ डॉलर की सहायता की घोषणा की है।