रेलवे के निजीकरण का कोई विचार या प्रस्ताव नहीं : गोयल

नयी दिल्ली।सरकार का रेलवे के निजीकरण का कोई विचार या प्रस्ताव नहीं है।रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी।उन्होंने बताया ‘‘रेलवे के निजीकरण का कोई प्रस्ताव नहीं है। बहरहाल, कुछ गाड़ियों का वाणिज्यिक और ‘‘ऑन बोर्ड’’ सेवाओं का आउटसोर्स करने तथा यात्रियों को बेहतर सेवा प्रदान करने के उद्देश्य से चुनिंदा मार्गों पर गाड़ियां चलाने के लिए आधुनिक रैकों को शामिल करने के वास्ते निजी कंपनियों को अनुमति देने का प्रस्ताव है।’’गोयल ने बताया कि ऐसे मामलों में गाड़ी परिचालन और संरक्षा प्रमाणन का उत्तरदायित्व रेलवे के पास रहेगा।उन्होंने बताया ‘‘साफ-सफाई और अन्य सेवाओं में सुधार करने के लिए स्टेशन की सफाई, पे एंड यूज शौचालय, विश्राम कक्षों, पार्किंग तथा प्लेटफार्म के रखरखाव जैसी सेवाओं का आउटसोर्स जरूरत के आधार पर किया जा रहा है।’’