सीएजी ने शिवराज सरकार की पोल खोली,हर जिले में भ्रष्टाचार में करोड़ों की हेरफेर उजागर : भूपेन्द्र गुप्ता

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने विधानसभा में प्रस्तुत की गई सीएजी की रिपोर्ट में मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार के घोटालों की सूची बताते हुए मध्य प्रदेश की जनता को आगाह करते हुए कहा है कि विगत कई सालों से शिवराज सरकार जिस भ्रष्टाचार और लूट खोरी का समंदर बनी हुई थी उसका सीएजी ने अपनी ताजा रिपोर्ट में खुलासा किया है । बच्चों को दिए जाने वाले फ्लेवर्ड दूध को भी भ्रष्ट शासन प्रशासन ने लूट लिया है। गुप्ता ने कहा की न्यूनतम मानदेय पर काम करने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं यानि भांजियों का मानदेय भी लूट लिया गया। उनका मानदेय 89 संदिग्ध खातों में जमा करके लगभग 3 करोड़ 90 लाख रुपए का खेल हो गया ।
देवास में 361 तालाब गायब है इन बलराम तालाबों को बनाने के लिए वहां के कलेक्टर साहब का शिवराज सिंह ने सम्मान भी किया था।
बच्चों के फ्लेवर्ड दूध के एक ही बिल पर दो दो बार भुगतान हो गए। यह भी सीएजी की रिपोर्ट में खुलासा किया गया है और जनता के पैसे को लाखों रुपए का चूना लगाए गया है।
कुछ कलेक्टरों ने सहायक ग्रेड 3 तथा भृत्यों की नियुक्तियों में जमकर धाधलियां की। छतरपुर सीएमएचओ कार्यालय रायसेन रिपोर्ट पढ़कर लगता है कि पूरा मध्य प्रदेश शिवराज में भ्रष्टाचार की महागंगा फैलाने में लगा था जनता के मन में यह स्वाभाविक सवाल उठ रहा है कि क्या ऐसी ही लूट के धन से जनमत की खरीद फरोख्त हुई है और मध्य प्रदेश को एक अनैतिक सरकार का बोझा उठाना पड़ रहा है। गुप्ता ने मांग की कि सरकार तत्काल सीएजी की रिपोर्ट पर कार्यवाही करे और लुटेरे अधिकारियों को जेल भेजे। कांग्रेस पार्टी इस रिपोर्ट के अन्य घोटाले इससे संबंधित जिलों में भी खुलासे के रूप में जारी करेगी।