शिवराज सिंह ने विकास की और कमलनाथ ने भ्रष्टाचार की लकीर खींचीः ज्योतिरादित्य सिंधिया

भोपाल। अशोक नगर जिले के मुंगावली विधानसभा के पिपरई में आयोजित समारोह में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पिपरई क्षेत्र की जनता से मेरा दिल का नाता है। जो आपने मांगा वो हमने किया, जो आपने नहीं मांगा वो भी दिया। उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह ने 15 वर्षों में जो विकास की लंबी लकीर खींची थी उससे लंबी लकीर कमलनाथ सरकार ने भ्रष्टाचार की खींच दी। सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ के मुख्यमंत्री बनने में ग्वालियर चंबल का सबसे महत्वपूर्ण रोल था। यहां से कांग्रेस को 34 में से 26 सीटे मिली थी। बदले में इस अंचल को क्या मिला? हमने सोचा था कि एक विकासशील, प्रगतिशील सरकार आयेगी। जो सरकार आई उसने विकास और प्रगति की लकीर तो नहीं खींची उल्टे भ्रष्टाचार और वादाखिलाफी की लकीर खींच दी। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने कहा था सिर्फ 10 दिन में कर्जमाफ होगा अगर नहीं हुआ तो 11 वे दिन मुख्यमंत्री बदल देंगे। 10 दिन, 10 महीने निकल गए पर किसानों का कर्जामाफ नहीं हुआ। सिंधिया ने कहा कि जो सरकार अन्नदाताओं के साथ वादाखिलाफी करेगी उस सरकार को सड़क पर लाने का काम सिंधिया परिवार का मुखिया करता रहेगा।
ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि सरकार-सरकार में फर्क होता है। एक कमलनाथ सरकार थी जिसने सिर्फ वादाखिलाफी और भ्रष्टाचार किया। दूसरी कमल की सरकार है जिसने सिर्फ 5 महीने में ही वो करके दिखाया जो कांग्रेस 15 महीने में नहीं कर पायी। शिवराज ने 37 लाख गरीबों को एक रूपए किलो में अनाज उनके घर में पहुंचाया है। फसल बीमा की राशि पर कमलनाथ ने ताला लगा दिया था उसको शिवराज ने पैसा जमा करके किसानों को बीमा राशि दिलवाई। कोरोनाकाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 80 करोड़ गरीबों के लिए मुफ्त राशन पहुंचाया है। उज्जवला योजना के तहत गैस सिलेंडर मुफ्त पहुंचाया। 
ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मुख्यमंत्री रहते कमलनाथ ने गरीब बेटियों की शादी के लिए 51 हजार देने का वादा किया था, 15 महीने में हजारों बेटियों की शादियां हो गयी परंतु 1 रूपए भी किसी बेटी के खाते में नहीं आया। बेरोजगारों को हर महीने 4 हजार रूपए भत्ता देने का वादा किया था लेकिन किसी युवा को भत्ता नहीं मिला। कांग्रेस ने 15 महीने में प्रदेश को भ्रष्टाचार का उद्योग बना दिया। कमलनाथ सरकार में भ्रष्टाचार ही शिष्टाचार था। उन्होंने कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि शिवराज सिंह और मैं इस क्षेत्र के और प्रदेश के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि सन 1980 में मोती-माधव एक्सप्रेस पूरे मध्यप्रदेश में विकास की आंधी लायी थी आज शिवराज और ज्योतिरादित्य साथ हैं। भाजपा के प्रत्याशियों को आपके आशीर्वाद की आवश्यकता है। इसके बाद इस अंचल और मध्यप्रदेश में विकास की शिव-ज्योति एक्सप्रेस ट्रेन चलेगी। सिंधिया ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान ने ग्वालियर-चंबल अंचल को बीते पांच महीनों में छप्पर फाड़ के दिया है। ऐसे में जब इस क्षेत्र से गद्दारी करने वाले कमलनाथ और दिग्विजयसिंह वोट मांगने आएं तो उन्हें एक भी वोट नहीं मिलना चाहिए।