'वाह री सरकार, आसान कर दिया अत्याचार', नए श्रम कानून पर प्रियंका गांधी का मोदी सरकार पर वार

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर नया हमला बोला है. संसद से हाल ही में पास किए गए नए श्रम कानूनों पर प्रियंका ने मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया है. गांधी ने आरोप लगाया कि सरकार का काम होता है सभी लोगों की नौकरियों को सुरक्षित बनाने के लिए कानून बनाना लेकिन सरकार ने उल्टे नौकरी से हटाने के नियम ही आसान कर दिए. इससे कॉरपोरेट्स को फायदा पहुंचेगा लेकिन आम आदमी बेरोजगारी के संकट से त्रस्त हो जाएगा.
प्रियंकी गांधी ने ट्वीट किया है, "इस कठिन समय की मांग है कि- किसी की नौकरी न जाए..सबकी आजीविका सुरक्षित रहे.. भाजपा सरकार की प्राथमिकता देखिए- भाजपा सरकार अब ऐसा कानून लाई है जिसमें कर्मचारियों को नौकरी से निकालना आसान हो गया है..वाह री सरकार,, आसान कर दिया अत्याचार.."
मानसून सत्र के आखिरी दिन संसद ने श्रम सुधार से जुड़े तीन बिल को मंजूरी दे दी. इसके तहत कंपनियों को बंद करने के नियम में ढील दी गई है. विधेयक के प्रस्ताव के मुताबिक अधिकतम 300 कर्मचारियों वाली कंपनियों को बिना सरकार की इजाजत के लोगों को नौकरी से हटाने के अधिकार दिए गए हैं.