चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और केरल सहित 5 राज्‍यों में घोषित की चुनाव की तारीखें

नई द‍िल्‍ली। चुनाव आयोग ने पांच राज्‍यों पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल तथा पुदुच्चेरी के लिए विधानसभा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी है. घोषित कार्यक्रम के अनुसार दक्षिण के राज्‍य केरल, तमिलनाडु और पुदुच्‍चेरी (यूटी) में एक ही चरण में वोट डाले जाएंगे. सभी राज्‍यों के नतीजे दो मई को घोषत किए जाएंगे. मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त CEC सुनील अरोड़ा ने बताया कि 824 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा. उन्‍होंने बताया कि वोट डालने का समय  एक घंटा बढ़ाया गया है. डोर टू डोर कैंपेन पांच से ज्‍यादा लोग नहीं कर पाएंगे. उन्‍होंने बताया कि चुनाव अधिकारियों का भी टीकाकरण कराया जाएगा.

चुनाव आयोग की ओर से घोषित कार्यक्रम के अनुसार, असम में तीन चरण में चुनाव होगा. पहले चरण के लिए 27 मार्च, दूसरे चरण के लिए एक अप्रैल और तीसरे चरण के लिए 6 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे.
दक्षिण भारत के राज्‍य केरल में सभी सीटों पर छह अप्रैल को वोटिंग होगी. केरल में विधानसभा की 140 सीटें हैं.
दक्षिण भारत के ही एक अन्‍य राज्‍य तमिलनाडु में भी छह अप्रैल को एक ही राउंड में वोट डलेंगे. राज्‍य के सियासी दिग्‍गज जयललिता और एम. करुणानिधि के निधन के बाद राज्‍य में पहली बार चुनाव हो रहे हैं. तमिलनाडु में 234 सीटों पर विधानसभा चुनाव होने हैं.
पुदुच्‍चेरी में भी एक ही चरण में चुनाव संपन्‍न होंगे. यहां छह अप्रैल को वोटिंग होगी. 
बंगाल में आठ चरण में वोट डाले जाएंगे.पश्चिम बंगाल में पहले चरण (30 सीट) के लिए 27 मार्च, दूसरे चरण (30 सीट) के लिए 1 अप्रैल, तीसरे चरण (31 सीट) के लिए 6 अप्रैल, चौथे चरण (44 सीट) के लिए 10 अप्रैल, पांचवें चरण (45 सीट) के लिए17 अप्रैल, छठे चरण (43 सीट) के लिए 22 अप्रैल, सातवें चरण (36 सीट) के लिए 26 अप्रैल और आठवें चरण(35 सीट) के लिए 29 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. पांचों राज्‍यों के नतीजे दो मई को आएंगे.