वाटर स्पोर्ट्स के प्रशिक्षण शीघ्र होंगे शुरू : यशोधरा राजे सिंधिया

भोपाल। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने सोमवार को टी.टी. नगर स्टेडियम में वाटर स्पोर्ट्स के प्रशिक्षकों से वन-टू-वन चर्चा की। खेल मंत्री ने मध्यप्रदेश के अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को पूरी सावधानियों के साथ पुन: प्रशिक्षण शुरू करवाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आगामी वर्षों में आयोजित होने वाले अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खेलों को लक्ष्य बनाकर खिलाड़ियों को बेहतर प्रशिक्षण दें।
खेल मंत्री ने कहा कि प्रदेश के खिलाड़ियों ने वाटर स्पोर्ट्स में पूरे देश में अपनी अलग पहचान बनाई है। कोरोना की वजह से वर्तमान में खिलाड़ी प्रशिक्षण नहीं ले पा रहे हैं। उन्होंने वाटर स्पोर्ट्स के लिये अंतर्राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक को पुन: नियुक्त करने के निर्देश दिये। खेल मंत्री ने कहा कि कोविड-19 के कारण कई देशों में खेल, खिलाड़ी और प्रशिक्षकों पर विपरीत असर हुआ है। हमें समस्याओं को अपनी उपलब्घि बनाने की कोशिश करना है।
समीक्षा बैठक में खेल मंत्री ने प्रशिक्षकों से कोरोना की वजह से वर्तमान में खेलों पर क्या प्रभाव पड़ा है, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलों पर क्या असर हुआ है, कोरोना काल में खिलाड़ियों को पूरी सावधानी और सुविधाओं के साथ प्रशिक्षण दिया जा रहा है अथवा नहीं, पिछले वर्ष कितने बच्चों ने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धाओं में शिरकत की, क्या प्राथमिकताएँ रहीं आदि विषयों पर प्रशिक्षकों से वन-टू-वन चर्चा की। चर्चा में संचालक खेल एवं युवा कल्याण पवन जैन, सैलिंग प्रशिक्षक जी.एल. यादव, रोईंग प्रशिक्षक कैप्टन दलवीर सिंह, केनोईंग प्रशिक्षक पीयूष बरोड़े एवं देवेन्द्र गुप्ता उपस्थित थे।