अमेरिकन ओलम्पिक, पैरा ओलम्पिक के वाइस प्रेसिडेंट कैली स्कीनर ने दिया ऑनलाइन प्रशिक्षण

भोपाल। संपूर्ण विश्व में कोविड महामारी के कारण जन जीवन असामान्य हो गया है इस संकट काल में खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया चुनौती को अवसर में बदलने और खेल के क्षेत्र में नित नए नवाचार को प्रारंभ कर क्रियान्वित करने में प्रयासरत हैं। इसी कड़ी में मंगलवार को खेल मंत्री ने लगभग दो घंटे अमेरिकन ओलम्पिक, पैरा ओलम्पिक एसोसिएशन के वाइस प्रेसिडेंट कैली स्कीनर के साथ ' स्पोर्ट्स हाई परफारमेंस लीडरशिप' प्रोग्राम के लाइव ऑनलाइन सेशन में चर्चा की। खेल मंत्री ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण के कारण विश्व भर में खेल गतिविधियां बंद थी। प्रदेश में अनलॉक के बाद खिलाड़ियों के प्रशिक्षण का सिलसिला चरणबद्ध रूप से शुरू किया गया है। अब खिलाड़ी और प्रशिक्षक स्पोर्टस हाई परफारमेंस लीडरशिप प्रोग्राम की मदद से बेहतर प्रदर्शन कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि 'आउट ऑफ द बॉक्स' सोचने से ही इनोवेशन की शुरूआत होगी।
इस सेशन में कैली स्कीनर ने बताया कि स्पोर्ट्स में इनोवेशन अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने विंस्टन चर्चिल के फेमस शब्द 'Now that we have run out of money, we have to think' का उदाहरण देते हुए बताया जब आपके पास पैसे कम हों, तो आपको आउट ऑफ बॉक्स यानि क्रियेटिव आईडिया, क्रियेटिव थॉट, नई सोच से काम लेना चाहिए। उन्होंने इनोवेशन के प्रोसेस को त्रिस्तरीय बताया। त्रिस्तरीय इनोवेशन में आईडिया जनरेशन, प्राब्लम सॉल्विंग और इम्पलिमेंटेशन शामिल हैं।
कैली ने स्केटिंग, थ्रो, रनिंग के उदाहरण के साथ बताया कि कैसे खेलों में इनोवेशन का उपयोग कर हाई परफारमेंस ओलम्पिक में अचीव किया जा सकता है। उन्होंने अपने सेशन में टेलेंट आइडेंटिफिकेशन तथा टेलेंट ट्रांसफर में अमेरिका में किए गए इनोवेशन की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एक टेलेंट स्काउटिंग कैम्प जो कि NOH (The Next Olympic hopeful) के लिए एक ऐड तैयार किया था, वह इतना इंस्पायरिंग था कि उसको देखकर नौ हजार से ज्यादा खिलाड़ियों ने इस टेलेंट स्काउटिंग कैम्प में स्क्रीनिंग कराई। इसी तरह उन्होंने अमेरिका के विभिन्न खेल संघों से अपने ऐसे खिलाड़ियों को चिन्हित करने को कहा जो उनके खेल में उतने सफल नहीं हुए, जितना उनमें टेलेंट था। ऐसे खिलाड़ियों को साइंटिफिक स्क्रीनिंग के माध्यम से खेल चेंज कराकर ओलम्पिक चैम्पियन बनाया। उन्होंने जिम्नास्टिक और पोल वॉल्ट का उदाहरण देते हुए बताया कि कैसे जिम्नास्टिक की ट्रेनिंग पोल वाल्ट में मदद करती है। कैसे जिम्नास्टिक की ट्रेनिंग डायविंग में मदद करती है। उन्होंने विभिन्न उदाहरणों के माध्यम से आउट ऑफ बॉक्स थिंकिंग, टेलेंट आईडेंटिफिकेशन, टेलेंट ट्रांसफर पर विस्तार से चर्चा की। चर्चा के दौरान कैली ने प्रश्नों के उत्तर भी दिए। खेल और युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कैली स्कीनर का आभार जताया कि उन्होंने विस्तार से स्पोर्ट्स हाई परफारमेंस की इतनी विस्तृत और आउट ऑफ बॉक्स जानकारी दी।
इस अवसर पर संचालक, खेल और युवा कल्याण  पवन कुमार जैन, पुरूष एवं महिला हॉकी के मुख्य प्रशिक्षक राजिन्दर सिंह, परमजीत सिंह, घुड़सवारी प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ, वॉटर स्पोर्ट्स प्रशिक्षक जी.एल. यादव, दलबीर सिंह, पीजूष बरोई, एथलेटिक्स प्रशिक्षक एस.के. प्रसाद, विरेन्द्र डबास, अनुपमा, बॉक्सिंग प्रशिक्षक  रोशनलाल सहित संचालनालय के सभी सहायक संचालक उपस्थित थे।