तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री का पद संभालेंगे केजरीवाल, शपथ के लिए सज रहा रामलीला मैदान

नई दिल्ली।राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को अरविंद केजरीवाल को दिल्ली का नया मुख्यमंत्री नियुक्त किया। केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) हाल के विधानसभा चुनाव में 70 में से 62 सीटें जीती है। सरकारी अधिसूचना के अनुसार राष्ट्रपति ने मुख्यमंत्री की सलाह पर छह विधायकों को मंत्री भी नियुक्त किया है। 16 फरवरी को केजरीवाल के साथ जो छह मंत्री शपथ लेंगे, वे हैं- मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन और राजेंद्र गौतम।
अधिसूचना में कहा गया है, 'राष्ट्रपति को अरविंद केजरीवाल को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली का मुख्यमंत्री नियुक्त करते हुए खुशी हो रही है। उनकी नियुक्ति शपथ ग्रहण के दिन से प्रभावी होगी।' दिल्ली विधानसभा चुनाव में आप ने 70 में 62 सीटें जीती थी और बीजेपी महज आठ सीट जीत पाई। कांग्रेस का खाता भी नहीं खुला था।
बयान के मुताबिक, 'राष्ट्रपति तत्काल प्रभाव से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनकी मंत्रि परिषद का त्याग-पत्र स्वीकार करते हैं। वह नए मुख्यमंत्री के पद की शपथ लेने तक राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में कार्य करते रहेंगे।'
उधर, तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री का पद रविवार को संभालने जा रहे अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह की यहां ऐतिहासिक रामलीला मैदान में जोर शोर से तैयारियां चल रही हैं। नौकरशाह से नेता बने 51 वर्षीय केजरीवाल के लिए अन्ना हजारे के नेतृत्व वाले इंडिया अगेंस्ट करप्शन आंदोलन के दौरान आंदोलन स्थली रहे इस मैदान को सजाया जा रहा है तथा पार्टी कार्यकर्ता तैयारी में जुटे हुए हैं।
शपथ ग्रहण समारोह के लिए पीएम नरेंद्र मोदी को भी न्योता दिया गया है, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि वह इसमें हिस्सा लेंगे या नहीं क्योंकि उन्हें रविवार को वाराणसी जाना है। दिल्ली सरकार, उत्तरी दिल्ली नगर निगम ओर लोक निर्माण विभाग शपथ ग्रहण समारोह स्थल को तैयार करने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) ने हाल के दिल्ली विधानसभा चुनाव में शानदार जीत दर्ज कर सत्ता बरकरार रखी है और मुख्य विपक्षी बीजेपी को जबर्दस्त झटका दिया है। सीएए विरोध के बीच हुए इस चुनाव में कांग्रेस का सूफड़ा साफ हो गया।