गहलोत कैबिनेट ने तीसरी बार भेजा राज्यपाल को प्रस्ताव, 31 जुलाई तक सत्र बुलाने की जताई इच्छा

जयपुर।।प्रदेश में मचे सियासी घमासान के बीच एक बार फिर गहलोत कैबिनेट की ओर से राज्यपाल को विधानसभा सत्र बुलाने के लिए संशोधित प्रस्ताव भेज दिया गया है। तीसरी बार भेजे गए प्रस्ताव में राज्यपाल की आपत्तियों के जवाब भी भेजे गए हैं। इसके साथ ही उनसे 31 जुलाई से ही सत्र बुलाना के लिए आग्रह किया गया है। आपको बता दें कि मंगलवार को राज्यपाल द्वारा उठाए गए बिंदुओं पर प्रश्नों को लेकर कैबिनेट ने यह मीटिंग बुलाई थी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में सीएम आवास पर हुई इस मीटिंग में राज्यपाल की आपत्तियों पर मंथन कर दोबारा उन्हें संशोधित प्रस्ताव भेज दिया गया। मीटिंग समाप्त होने के बाद परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कैबिनेट मीटिंग में हुई चर्चा पर मीडिया को विस्तृत जानकारी दी।
मंत्री खाचरियावास ने बताया कि कांग्रेस की ओर से एक बार फिर विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर पत्र राज्यपाल को दे दिया गया है। दो घंटे चली इस बैठक के बारे में मंत्री खाचरियावास ने बताया कि बैठक में विधानसभा सत्र बुलाने के संशोधित प्रस्ताव पर राज्यपाल द्वारा उठाए गए बिंदुओं पर चर्चा हुई है। साथ ही हमने राज्यपाल को संशोधित प्रस्ताव भेजकर 31 जुलाई तक सत्र आहूत की मांग की गई है।
बैठक के बाद परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि हम राज्यपाल से कोई टकराव नहीं चाहते हैं वे हमारे परिवार के मुखिया हैं। उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार की ओर से विधानसभा सत्र बुलाने के लिए संशोधित प्रस्ताव एक बार फिर राजभवन को भेजा जाएगा। अब राज्यपाल को तय करना है कि वे हर राजस्थान की भावना को समझें।