मध्य प्रदेश को तालिबान बनाने पर तुली है सरकार : सज्जन सिंह वर्मा

भोपाल।पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने शिवराज सरकार पर बड़ा हमला करते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश में शिवराज को जनता जनार्दन द्वारा नकारने के बाद भी धनमत से जंगलराज लौट आया है।
प्रदेश के झाबुआ जिले की पारा पुलिस चौकी के तहत आने वाले गांव छापरी रनवासा में लोगों ने प्रदेश की एक बेटी से अमानवीय हरकत की। पति को महिला के कंधे पर बैठाकर जुलूस के रूप में घुमाया गया। उसकी शादी के करीब सात वर्ष हो चुके हैं और तीन बच्चे भी हैं, सोचिए कितना अपमान उस बेटी को सहना पड़ा होगा।
यह सरकार की अकर्मण्यता का परिणाम है कि तालिबान जैसी परिस्थितियां मध्य प्रदेश में पैदा हो गई हैं कि कोई किसी को भी प्रताड़ित कर सकता है। प्रदेश की सरकार चिरायु अस्पताल से चल रही है। हम ईश्वर से सरकार के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं और मुख्यमंत्री से आग्रह करते हैं कि अगर नहीं संभल रहा तो ठीक होने तक सरकार की बागडोर किसी और को दे दें।
अभी एक दिन पहले ही देवास में एक बेटी को जिंदा जलाने की कोशिश की गई थी , सरकार की निद्रा तब भी नहीं टूटी। कुछ दिनों पहले गुना में एक दलित बेटी को निर्वस्त्र कर उसके साथ मारपीट की गई थी, सरकार ने तब भी मामले को गंभीरता से नहीं लिया आरोपियों पर एससी एसटी एक्ट नहीं लगाया ।ऐसा लगता है मध्यप्रदेश में दलित प्रताड़ना का काला इतिहास लिखा जा रहा है।
वर्मा ने कहा कि प्रदेश का गृह मंत्री शेरो शायरी में लगा है। सरकार दलित, शोषित, पीड़ित, गरीबों एवं महिलाओं पर अत्याचार एवं अन्याय बंद करे तथा ऐसे प्रकरणों में लिप्त लोगों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करें।
झाबुआ में हुई घटना पर जनता से तथा इस बेटी से माफी मांगे तथा जल्द से आरोपियों को कड़ी सजा दिलाए सुनिश्चित करें नहीं तो कांग्रेस पार्टी चुप नहीं बैठेगी।