कमलनाथ के 'आइटम' वाले बयान को राहुल गांधी ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण, बोले- मुझे इस तरह की भाषा पसंद नहीं

नई दिल्ली।  मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह सरकार में कैबिनेट मंत्री इमरती देवी को "आइटम" कहने के मामले में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ चौतरफा घिरते नजर आ रहे हैं. कांग्रेस के अंदर ही इस अपमानजनक टिप्पणी की निंदा के स्वर उठने लगे हैं. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कमलनाथ की टिप्पणी से असहमति जताते हुए कहा कि जिस तरह की भाषा का उन्होंने इस्तेमाल किया है, वो मुझे पसंद नहीं है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है. पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस बयान पर बीजेपी पूरी तरह हमलावर हो गई है. 
राहुल गांधी ने कमलनाथ की टिप्पणी को लेकर कहा, "कमलनाथ जी मेरी पार्टी से ताल्लुक रखते हैं, लेकिन व्यक्तिगत रूप से, मुझे उस प्रकार की भाषा पसंद नहीं है, जिसका उन्होंने इस्तेमाल किया. मैं इस तरह की भाषा की सराहना नहीं करता, चाहे वह कोई भी हो. यह दुर्भाग्यपूर्ण है." 
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और नेता विपक्ष कमलनाथ को बीजेपी सरकार के मंत्री पर की अपनी टिप्पणी को लेकर सोमवार को सफाई भी दी. कमलनाथ ने इमरती देवी पर दिए गए अपने बयान से उठ रहे सवाल के जवाब में कहा है कि वे उनका नाम भूल गए थे, वे किसी का अपमान नहीं करते. 
कमलनाथ की इमारती देवी पर की गई टिप्पणी को लेकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को दो घंटे का मौत व्रत भी रखा. यही नहीं. इस संबंध में उन्होंने कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी खत लिखा है. शिवराज सिंह चौहान ने सोनिया गांधी से कमलनाथ को सभी पदों से हटाते हुए कड़ी कार्रवाई करने की मांग की थी.