60 लेन पूर्ण होने पर भोपाल में आयोजित हो सकेंगी अन्तर्राष्ट्रीय शूटिंग प्रतियोगिताएँ : खेल मंत्री

भोपाल। प्रतिभावान और उभरते खिलाड़ियों को राज्य शासन द्वारा अनेक सुविधाएँ उपलब्ध कराई जा रही है। प्रदेश के भोपाल स्थित म.प्र. राज्य शूटिंग अकादमी में अब जल्द ही अन्तराष्ट्रीय स्तर की शूटिंग प्रतियोगिताएँ आयोजित हो सकेगी। यह बात खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधराराजे सिंधिया ने बुधवार को बिशनखेड़ी स्थित म.प्र. राज्य शूटिंग अकादमी में निर्माणाधीन बालक-बालिका छात्रावास तथा 50 मीटर शूटिंग रेंज के विस्तार कार्यों के निरीक्षण के दौरान कही।
सिंधिया ने बताया कि म.प्र. राज्य शूटिंग अकादमी को सर्व-सुविधायुक्त बनाया गया है। अन्तर्राष्ट्रीय स्पर्धाओं के मानदंडों के अनुसार रायफल शूटिंग के लिए 60 लेन होना अनिवार्य है। अभी अकादमी में 50 मीटर लेन स्थापित है। वर्तमान में 10 मीटर का विस्तार कार्य प्रगति पर है, जो मार्च-2021 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। सिंधिया ने बताया कि मप्र राज्य शूटिंग अकादमी अंतर्राष्ट्रीय शूटिंग स्पोटर्स फेडेरेशन से अधिमान्यता प्राप्त है। इसके विस्तार के बाद यहाँ पर शूटिंग के वर्ल्ड कप आयोजित किया जा सकेंगे।
शूटिंग एकेडमी परिसर के 12 करोड़ 65 लाख रूपये की लागत से निर्माणाधीन छात्रावास में खिलाड़ियों की सुरक्षा का विशेष ध्यान दिया गया है। छात्रावास में 240 खिलाड़ियों, जिसमें 180 बालक और 60 बालिकाओं के रुकने की व्यवस्था होगी। प्रत्येक खिलाड़ी को रेडियो फ्रीक्यूवेंसी आईडेंटिफाईंग डीकोटर आईकार्ड के रूप में दिया जायेगा। इसका एक्सेस टी.टी. नगर स्थित संचालनालय से किया जायेगा। संबंधित अधिकारी को खिलाड़ियों की पूर्ण जानकारी उपलब्ध हो सकेगी। हॉस्टल में खिलाड़ियों मे एकाग्रता बढ़ाने के लिए मेडिटेशन रूम, डिजिटल लाइब्रेरी एन्टरटेनमेंट जोन, इण्डोर गेम्स, मिनी जिम, पर्सनल सेनिटाईजेशन एवं वॉश लॉज, डाइनिंग एरिया आदि की व्यवस्था भी रहेगी।
खेल मंत्री ने अकादमी परिसर में निर्माणाधीन बालक-बालिका छात्रावास का भी निरीक्षण किया तथा अकादमी के प्रशिक्षकों से उनकी समस्याओं पर भी चर्चा की। इस अवसर पर संचालक खेल एवं युवा कल्याण पवन कुमार जैन उपस्थित थे।