कोरोना संबंधी पाबंदियों की वजह से इस होली सीजन में कारोबारियों को हुआ 35000 करोड़ का नुकसान

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते संकट और सार्वजनिक स्थलों पर बढ़ती पाबंदियों की मार व्यापारियों पर बढ़ती जा रही है. इस बार होली सीजन में कार्यक्रमों और पार्टियों पर लगे प्रतिबंध की वजह से कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स का आंकलन है कि देश में व्यापारियों को 35000 करोड़ तक के नुक्सान हुआ है. कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स का आंकलन है कि पिछले साल भी कोरोना संकट की वजह से व्यापारियों को 20000 करोड़ का नुक्सान हुआ था. सेंट्रल दिल्ली की पॉपुलर मिठाई की दुकान बंगाली स्वीट हाउस में कुर्सियां खाली पड़ी रहीं, मिठाई के ग्राहक नहीं के बराबर रहे. आम तौर पर यहां होली के सीजन में भीड़ रहती थी, लेकिन होली पार्टियों पर पाबन्दी की वजह से इस बार कॉर्पोरेट ऑर्डर नहीं आये, मिठाई का बिज़नेस बुरी तरह प्रभावित हुआ.