चुनावी हार की आशंका पर विपक्ष पर छापे डलवाना बीजेपी का हथकंडा : राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तमिलनाडु में डीएमके प्रमुख एमके स्‍टालिन के दामाद के ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे के मामले में बीजेपी नीत केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस और वामदल सहित अन्‍य विपक्षी पार्टियों आरोप लगाती रही है कि केंद्रीय एजेंसियां, बीजेपी की विरोधी पाटियों के नेताओं को 'टारगेट' करके परोक्ष रूप से लोकतांत्रिक प्रक्रिया में दखलंदाजी कर रही है. ऐसे समय जब चार राज्‍यों और एक केंद्र शासित क्षेत्र में विधानसभा चुनाव चल रहे हैं, उन्‍होंने आयकर अधिकारियों के छापे के 'टाइमिंग' को लेकर भी सवाल खड़ा किया है. कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को एक ट्वीट में लिखा, '..'जब चुनावी हार की आशंका होती है जो बीजेपी का तंत्र, विपक्ष पर छापे डलवाने के हथकंडे अपनाने लगता है ''
गौरतलब है कि डीएमके प्रमुख एमके स्‍टालिन के दामाद सबरीसन और उनके सहयोगियों के चेन्‍नई स्थित ठिकानों पर तलाशी अभियान सुबह 8 बजे शुरू हुआ. डीएमके ने इस 'कार्रवाई' के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत करते हुए इसे आयकर विभाग की ओर से 'पावर का दुरुपयोग' करार दिया है. तमिलनाडु की विपक्षी पार्टी डीएमके ने चुनाव आयोग को अपनी शिकायत में लिखा है, 'आयकर विभाग अधिकारी, एआईएडीएमके-बीजेपी की चुनावी संभावनाओं को ध्‍यान में रखते हुए काम कर रहे हैं. ' आयकर विभाग की ओर से जिन स्‍थानों की तलाशी ली गई, उसमें चेन्‍नई शहर के बाहरी इलाके नीलनगराई स्थित घर शामिल है जहां स्‍टालिन की बेटी सेंथामराई अपने पति सबरीसन के साथ रहती है. 
सबरीसन, डीएमके प्रमुख स्‍टालिन के प्रमुख रणनीतिकार और सलाहकार हैं. डीएमके प्रमुख ने कहा कि राज्‍य की जनता उनकी पार्टी को स्‍पष्‍ट जनादेश देगी. अपनी बेटी के घर पर छापे पर प्रतिक्रिया देते हुए स्‍टालिन ने कहा, 'मैं एमके स्‍टालिन हूं, यह स्‍टालिन इमरजेंसी और MISA का सामना कर चुका है. मैं इन IT छापों से डरने वाला नहीं हूं. पीएम मोदी को पता होना चाहिए कि हम AIADMK के नेताओं की तरह नहीं हैं जो उनके सामने 'दंडवत' हो जाते हैं.' स्‍टालिन के बेटे उदयनिधि ने भी अपनी बहन के यहां आईटी छापे को लेकर तीखे शब्‍दों में प्रतिक्रिया दी है.