कमलनाथ कोई एक विकास का काम बताएं जो मुख्यमंत्री रहते हुए किया हो : सीएम चौहान

उज्जैन। कल कमलनाथ उज्जैन आए थे और मुझे जी भरकर गालियां दी और विकास के बडे-बडे दावे किए। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि विकास का कोई एक काम बता दें जो उन्होंने 15 महीने मुख्यमंत्री रहते हुए किया हो। विकास के बजाए उल्टा कमलनाथ ने भाजपा सरकार के समय गरीबों के लिए शुरू की गयी सारी जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद करने का पाप किया। यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को उज्जैन में भाजपा महापौर प्रत्याशी मुकेश टटवाल और पार्षद प्रत्याशियों के समर्थन में शहर के अलग अलग स्थानों पर जनसभाओं को संबोधित करते हुए कही। 
उन्होंने कहा कि उज्जैन वालों मैं आज खाली हाथ नहीं आया हूं, बाबा महाकाल की नगरी में मेडिकल कॉलेज लाया हूं। आपके बच्चे यहां पढ़ेंगे और डॉक्टर बनेंगे। चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में हमने एक क्रांतिकारी फैसला किया है कि अब मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई भी हिन्दी में करवाई जायेगी, ताकि अंग्रेजी में कमजोर हमारे बच्चे भी डॉक्टर और इंजीनियर बनकर अपने माता-पिता का नाम रौशन कर सके। अंग्रेजी की गुलामी से मध्यप्रदेश को मुक्ति दिलाऊंगा। उन्होंने कहा कि उज्जैन की विनोद मिन और विमल मिल में काम करने वाले मजदूरों का बकाया हमने कोर्ट में जमा करवा दिया है। जो कि जल्द ही उन्हें मिलेगा।
शिवराजसिंह चौहान ने गणेश चौक में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस का फर्क देखिए। भाजपा ने एक साधारण कार्यकर्ता मुकेश टटवाल को महापौर पद का प्रत्याशी बनाया है। वहीं कमलनाथ जी ने महापौर का टिकट विधायक को ही दे दिया है और यह कह रहे है कि हमने विधायक को इसलिए दिया, ताकि भ्रष्टाचार न हो। कमलनाथ जी जवाब दें कि कांग्रेस का कोई कार्यकर्ता महापौर होगा तो क्या वह भ्रष्टाचार करेगा। चौहान ने कहा कि कमलनाथ को उज्जैन में कोई कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं मिला, इसलिए महापौर प्रत्याशी के लिए तराना से विधायक लेकर आए हैं।
चौहान ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने बाबा महाकाल की नगरी का विकास किया है। पुल, पुलिया, ओव्हरब्रिज, मंदिरों के जीर्णोद्वार किए जा रहे है। महाकाल महाराज के परिसर को संवारा जा रहा है। अपना उज्जैन एक साल के अंदर ऐसा बन जायेगा कि सारी दुनिया देखने आयेगी। उन्होंने उपस्थित जनता से पूछते हुए कहा कि आप दिल पर हाथ रखकर बताना कि जितने विकास के काम भगवान महाकाल की नगरी में भाजपा ने किए हैं, क्या कभी कांग्रेस ने किए।
चौहान ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का ध्येय विकास और जनकल्याण है। कांग्रेस केवल गरीब गरीब करती रही लेकिन गरीबों को निशुल्क राशन देने का काम भाजपा सरकार ने किया है। कमलनाथ ने सिर्फ 15 महीने गरीबों के हक मारने का काम किया। कमलनाथ ने संबल योजना बंद करके हमारी गर्भवती बहनों से लड्डू और पोषण आहार के 16 हजार छीन लिए। कमलनाथ जवाब दें कि आखिर हमारी गरीब बहनों ने उनका क्या बिगाड़ा था ? कांग्रेस सिर्फ योजनाओं से गरीबों के नाम काटने का काम करती है जबकि भारतीय जनता पार्टी हमेशा जोडने का काम करती है। कमलनाथ सरकार ने जिन गरीब परिवारों के नाम मुफ्त राशन की सूची और संबल योजना से काट दिए थे उन्हें फिर से जोडे जायेगे। हर गरीब को मुफ्त राशन मिलेगा।