मुख्यमंत्री केजरीवाल ने एक साल में 1950 नई बस खरीदने को दी मंजरी

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अगले एक साल में 1950 नई बस खरीदने को दी मंजरी दी. साथ ही उन्होंने राजधानी दिल्ली के ट्रांसपोर्ट सेक्टर को आरामदेह और विश्वस्तरीय बनाने का संकल्प लिया. आज कैबिनेट बैठक में कई बड़े और महत्वपूर्ण फैसले लिए गए,जिसके बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेसवार्ता को संबोधित किया.
सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा आज हमारी कैबिनेट की बैठक हुई थी, जिसमें 1950 बस खरीदने की मंजूरी दी गई है. ये बसें अगस्त सितंबर तक आनी शुरू हो जाएंगी और अगले साल सितंबर तक ये सभी बसें आ जाएंगी. इसके अलावा अभी दिल्ली में 7200 बसें हैं. आज तक दिल्ली के इतिहास में इतनी बसें कभी नहीं रहीं. इसके अतिरिक्त लगभग 4800 और बसों के फ्रेश टेंडर दिए जा रहे हैं. साथ ही साथ अगले दो-तीन साल में कुछ बसों की लाइफ खत्म हो जाएगी और उनको रिप्लेस करना पड़ेगा. दिसंबर 2024 तक हमारे पास दिल्ली की सड़कों पर 11,910 बसें होंगी. दिल्ली को इतनी ही बसों की जरूरत है. केजरीवाल ने कहा कि हमारा मकसद दिल्ली के ट्रांसपोर्ट को इंटरनेशनल स्टैंडर्ड का बनाने का है. 
सीएम केजरीवाल ने अर्बन फार्मिंग करने की बात कही. उन्होंने कहा कि जिन लोगों के घरों में थोड़ी जगह बालकनी में या छत में है और वो लोग सब्जियां या फ्रूट उगाना चाहते हैं, तो हम उनको फल सब्जी उगाना सिखाएंगे. लोगों को हम बीज वगैरह उपलब्ध कराएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके लिए हम बड़े स्तर पर हम एक्सपर्ट को हायर कर रहे हैं. इंडियन एग्रीकल्चर रिसर्च इंस्टीट्यूट के साथ टाईअप करने जा रहे हैं.
ये एक्सपर्ट दिल्ली में वार्ड स्तर पर करीब 400 वर्कशॉप आयोजित करेंगे, जिससे लोग अपने घर की खपत के लिए अर्बन फार्मिंग सीख सकें, जबकि 600 वर्कशॉप उन लोगों के लिए आयोजित की जाएंगी जो बिजनेस के लिए अर्बन फार्मिंग करना चाहते हैं. एक वर्कशॉप में 25 लोग भी आएंगे तो करीब 25 हजार लोगों को यहां 25000 परिवारों को पहले साल में अर्बन फार्मिंग का फायदा होगा.
सीएम केजरीवाल ने बताया कि कैबिनेट में तीसरा और महत्वपूर्ण फैसला लिया गया है कि जो दिल्ली सरकार कोरोना को देखते हुए लोगों को मुफ्त राशन उपलब्ध करवा रही थी. उस मुफ्त राशन योजना को अब 30 सितंबर तक बढ़ा दिया गया है.