वर्ल्ड चैंपियन निकहत जरीन ने दिलाया स्वर्ण, भारत ने बॉक्सिंग में लगाई गोल्डन हैट्रिक

नई दिल्ली। वर्ल्ड चैंपियन निकहत जरीन ने रविवार को बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों  के महिलाओं की 50 किग्रा (लाइट फ्लाईवेट) में गोल्ड मेडल जीत लिया है. निकहत ने फाइनल मुकाबले में आयरलैंड की कार्ली एमसी नौल को 5-0 से हराकर स्वर्ण पदक जीता. भारतीय मुक्केबाज ने इस साल की शुरुआत में विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप का खिताब जीता था और अब उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता है. ये भारत का दिन का चौथा और बर्मिंघम  में कुल मिलाकर 17वां स्वर्ण. आज के दिन अमित पंघाल और नीतू घनघास के बाद के भारत के लिए मुक्केबाजी में तीसरा गोल्ड है. इसी के साथ भारत पदक तालिका में न्यूजीलैंड को पीछे छोड़ते हुए चौथे स्थान पर पहुंच गया है. कॉमनवेल्थ गेम्स का सोमवार 8 अगस्त को आखिरी दिन होगा.
इससे पहले, अमित पंघाल ने पुरुष के फ्लाईवेट (48-51 किग्रा) वर्ग के फाइनल में इंग्लैंड के कियारन मैकडोनाल्ड को हराकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया. 
महिला बॉक्सर नीतू घनघास ने मिनिममवेट (45-48 किग्रा) वर्ग में गोल्ड मेडल जीता. इन दोनों मुक्केबाजों ने अपने मुकाबलों के फाइनल में मेजबान देश इंग्लैंड के प्रतिद्वंद्वी को पराजित किया. 
इसी के साथ भारत के लिए पदकों की संख्या कुल 48 हो गई है, जिसमें 17 गोल्ड, 12 सिल्वर और 19 ब्रॉन्ज मेडल शामिल है.